चिराग / The Lamp

मुझे नहींरहा भरोसाअब चाँद पर…छुप जाता है यहकभी भी कहीं भी…एक चिराग ही काफी हैमेरे अंधेरे को दूर करने के लिए… 🌝 🌚🌝 🌚🌝 🌚 I don’t trust the moon anymore…it hides anywhere anytime…to dispel my darknessone lamp is enough… –Kaushal Kishore

चिराग / The Lamp

Leave a Reply